Kawad Yatra 2024 Start and End Date:- कावड़ यात्रा 2024 का आयोजन 22 जुलाई 2024 से शुरू होकर 02 अगस्त 2024 तक चलेगा। यह कावड़ यात्रा श्रावण मास में आयोजित की जाती है, जो भगवान शिव को समर्पित है। इस दौरान भक्त पवित्र गंगा नदी से जल भरकर पैदल यात्रा करते हैं और अपने कर्तव्य स्थान तक पहुंच कर इसे शिवलिंग पर चढ़ाते हैं।

Kawad Yatra 2024 Start and End Date
Kawad Yatra 2024 Start and End Date

यदि आप इस कावड़ यात्रा में भाग लेने की योजना बना रहे हैं, तो आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े। जिसमे हमने कावड़ यात्रा 2024 की पूरी जानकारी दी हुई है। कावड़ यात्रा के दौरान हरिद्वार और अन्य स्थानों पर विशेष व्यवस्थाएं की जाती हैं, ताकि कावड़ियों को किसी भी प्रकार की कोई परेशानी न हो।

Kawad Yatra 2024 Jal Date and Time (कावड़ यात्रा 2024 जल तिथि और समय)

कांवड़ यात्रा 2024 की जल तिथि 2 अगस्त 2024 है। इस दिन शिवभक्त अपने कांवड़ में जल भरकर शिवलिंग पर चढ़ाएंगे। कावड़ यात्रा 2024 की शुरुआत दिन सोमवार, 22 जुलाई 2024 से प्रारंभ होकर दिन शुक्रवार, 02 अगस्त 2024 को समाप्त होगी। कांवड़ यात्रा के दौरान, श्रद्धालु 02 अगस्त 2024 को जल चढ़ा सकते हैं। सावन शिवरात्रि इस वर्ष 02 अगस्त 2024 को है, जो सबसे महत्वपूर्ण दिन है जिस दिन जल चढ़ाया जायेगा।

Haridwar Kawad Yatra 2024
Haridwar Kawad Yatra 2024

शिवरात्रि पूजा के लिए शुभ मुहूर्त इस प्रकार है।

  • रात्रि का पहला प्रहर पूजा समय: 07:11 PM से 09:49 PM
  • रात्रि का दूसरा प्रहर पूजा समय: 09:49 PM से 12:27 AM, 3 अगस्त
  • रात्रि का तीसरा प्रहर पूजा समय: 12:27 AM से 03:06 AM, 3 अगस्त
  • रात्रि का चौथा प्रहर पूजा समय: 03:06 AM से 05:44 AM, 3 अगस्त

इस अवधि के दौरान, भक्त अपने गंतव्य तक पहुँचते हैं और शिवलिंग पर गंगाजल अर्पित करते हैं।

When does Kawad Yatra 2024 take place कांवड़ यात्रा कब होती है?

कांवड़ यात्रा (Kawad Yatra 2024 Start and End Date) हर साल श्रावण (सावन) मास में होती है, जो हिंदू पंचांग के अनुसार जुलाई-अगस्त के महीनों में आता है। यह यात्रा भगवान शिव को समर्पित है, जिसमें श्रद्धालु पवित्र गंगा नदी से जल भरकर पैदल यात्रा करते हैं और इसे शिवलिंग पर चढ़ाते हैं।

श्रावण मास का महीना भगवान शिव की पूजा के लिए विशेष महत्व रखता है, और इसी अवधि में शिवभक्त बड़ी संख्या में हरिद्वार, ऋषिकेश, गंगोत्री, और गौमुख जैसी पवित्र जगहों से गंगाजल भरकर अपने स्थानीय शिव मंदिरों में जल चढ़ाने के लिए यात्रा करते हैं।

कांवड़ यात्रा के दौरान लाखों श्रद्धालु पैदल, साइकिल, मोटरबाइक, और अन्य वाहनों के माध्यम से यात्रा करते हैं। यह यात्रा न केवल धार्मिक आस्था का प्रतीक है, बल्कि सामूहिक एकता और श्रद्धा का भी एक महत्वपूर्ण उदाहरण है।

Why is Kavad Yatra 2024 done (कावड़ यात्रा क्यों की जाती है)

कावड़ यात्रा को भारतीय संस्कृति में एक महत्वपूर्ण धार्मिक अनुष्ठान माना जाता है, और इसे कई कारणों से की जाती है।

  1. भगवान शिव के प्रति भक्ति: कावड़ यात्रा को भगवान शिव के प्रति अत्यधिक भक्ति और समर्पण का प्रतीक माना जाता है। इस यात्रा में भक्त शिवलिंग पर गंगा जल चढ़ाकर उनके प्रसन्नता की कामना करते हैं।
  2. त्याग और समर्पण: यात्रा के दौरान भक्त अपने स्वार्थों को त्यागकर और समर्पण के भाव से यात्रा करते हैं। इससे उन्हें संयम, साधना, और समर्पण की भावना सीखने का अवसर मिलता है।
  3. सावन माह में मान्यता: कावड़ यात्रा सावन माह (श्रावण मास) में की जाती है, जो भगवान शिव के लिए विशेष माना जाता है। इस माह में शिव भक्ति और उनकी पूजा का महत्व अधिक होता है।
  4. समाजिक संघर्ष का भाग: कावड़ यात्रा में भाग लेने वाले भक्त अकेले नहीं, बल्कि समूह में जाते हैं। इससे समाज में एकता, साझा भावना और सामाजिक एकत्रीकरण का अवसर मिलता है।
  5. परंपरागत मान्यता: कावड़ यात्रा भारतीय परंपरा में महत्वपूर्ण स्थान रखती है और इसे पूरे उत्तर भारत में विशेष धार्मिक और सामाजिक आयोजनों के रूप में मनाया जाता है।

    Haridwar Kawad Yatra 2024
    Haridwar Kawad Yatra 2024

इन सभी कारणों से (Kawad Yatra 2024 Start and End Date) कावड़ यात्रा धार्मिक और सामाजिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण होती है और इसे लाखों भक्त सालाना अपनाते है।

नोट: उपरोक्त तिथियां और समय स्थान और पंचांग के अनुसार परिवर्तित हो सकते हैं। यात्रा की सटीक तिथियों और अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए स्थानीय प्रशासन या आधिकारिक सूचनाओं को देखना उचित होगा।

दोस्तों हम उम्मीद करते है कि आपको (Kawad Yatra 2024 Start and End Date) कावड़ यात्रा 2024 प्रारंभ और समाप्ति तिथि की पूरी जानकारी के बारे में पढ़कर आनंद आया होगा।

यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आये तो हमारे फेसबुक पेज “PUBLIC GUIDE TIPS” को “LIKE” और “SHARE” जरुर करे।

धार्मिक और पर्यटक स्थलो की और अधिक जानकारी के लिए आप हमारे You Tube Channel PUBLIC GUIDE TIPS को जरुर “SUBSCRIBE” करे।

अगर आप हमे अपना कोई सुझाव देना चाहते है या यात्रा संबधित आपका कोई प्रश्न हो तो नीचे दिए कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *