Mussoorie Tourism in Hindi:- उत्तराखंड में जब भी हिल स्टेशन घूमने की बात आती है तो सबसे पहले मसूरी का नाम सामने आता है। क्योंकि मसूरी को अपनी प्राकृतिक सुंदरता के कारण सबसे पॉपुलर रोमांटिक हिल स्टेशन भी माना गया है। नए शादी शुदा कपल्स के लिए यह एक सबसे पसंदीदा डेस्टिनेशन है। जिसकी वजह से मसूरी को “क्वीन ऑफ हिल्स” (The Queen Of Hills) भी कहा जाता है। यहां पर आपको कैम्पटी फॉल, गन लेक और मसूरी लेक जैसी कई खूबसूरत जगह घूमने को मिलेगी। अगर आप इस साल अपने पार्टनर या फिर अपनी फॅमिली के साथ मसूरी घूमने का प्लान बना रहे है। तो इस लेख में हमने आपको मसूरी में 2 दिन घूमने की पूरी ट्रिप के साथ बेहतरीन स्थानों की जानकारी दी है। तो चलिए अब घूमते है मसूरी।

One Day Trip in Mussoorie in Hindi (मसूरी में एक दिन का ट्रिप)

अगर आप मसूरी घूमने के लिए आते है तो पहले दिन आपको कहा कहा पर घूमना चाहिए, देखिये पहले दिन आप केम्पटी फॉल्स, तिब्बती बौद्ध मंदिर, कैमल्स बैक रोड, लाल टिब्बा और मॉल रोड जैसे स्थलों पर घूमे, सुबह से शाम तक आप इन स्थानों पर आराम से घूम सकते है। आईये अब एक-एक करके इन स्थानों के बारे में विस्तार से जानते है।

Kempty Falls in Mussoorie in Hindi (मसूरी का केम्पटी फॉल्स)

केम्पटी फॉल्स मसूरी से लगभग 15 km दूर पानी का एक बेहद खूबसूरत झरना है। जो समुद्र तल से 4500 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। कह सकते है की मसूरी की सबसे ज्यादा फेमस जगह केम्पटी फॉल्स ही है। इस झरने पर 40 फिट उचाई से पानी गिरता है। जो की चारो तरफ से ऊंची-ऊंची पहाड़ियों से गिरा हुआ है। मसूरी में घूमने आये सभी पर्यटक यहां पर जरूर आते है। और गर्मियों के समय इस झरने में नहाने का लुफ्त भी उठाते है। इसीलिए केम्प्टी फॉल्स को एक तरह से पिकनिक स्पॉट भी कहा जाता है। जिसको जॉन मेकिनन द्वारा बनवाया गया था। यहां पर आस पास आपको खाने पिने से लेकर शॉपिंग करने तक काफी सारी दुकाने देखने को मिल जाएगी।

Tibetan Buddhist Temple in Mussoorie in Hindi (मसूरी का तिब्बती बौद्ध मंदिर)

हैप्पी वैली मसूरी की एक सबसे बड़ी तिब्बती बस्ती है। जो लाइब्रेरी बस स्टैंड से लगभग 2.5 km की दूरी पर स्थित है। यह बस्ती तिब्बती मंदिर, आईएएस अकादमी, और नगर उद्यानों के आवास के लिए सबसे ज्यादा प्रसिद्ध मानी जाती है। हैप्पी वैली में लगभग 5000 तिब्बती शरणार्थियों का घर है। इसीलिए इसे मिनी-तिब्बत भी कहा जाता है। यहां के तिब्बती मंदिर में जो ध्यान कक्ष बना हुआ है उसकी दीवारे, पैनल और छत को बड़े सुंदर चित्रों के साथ उकेरा गया है। यहां पर घूमने आये पर्यटक अपना ध्यान लगाते है।

Camel’s Back Road in Mussoorie in Hindi (मसूरी का कैमल्स बैक रोड)

कैमल्स बैक रोड मसूरी के लाइब्रेरी बस स्टैंड से लगभग 3 km लंबा रोड है। इस रोड का नाम एक चट्टान के आधार पर रखा गया था। जिसका आकर एकदम ऊंट के पीठ के आकार की तरह है। इस रोड का निर्माण 1845 में हुआ था। इस रोड पर आपको एक प्राचीन हवा महल भी देखने को मिलेगा। जहा से आप बैठकर मसूरी की बेहद खूसबूरत चोटियों को आराम से देख सकते हैं। इस हवा महल को पहले स्कैंडल प्वाइंट के नाम से भी जाना जाता था। ज्यादातर घूमने आये पर्यटक यहां पर आकर हिमालय की चोटियों को बहुत करीब से देखना चाहते है। जिसके लिए यहां पर टेलीस्कोप की सुविधा उपलब्ध हैं। यहां से चार धाम यानी बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री, धाम की चोटियां भी दिखाई देती हैं।

Lal Tibba in Mussoorie in Hindi (मसूरी का लाल टिब्बा)

लाल टिब्बा मसूरी के लंढौर क्षेत्र का सबसे ऊंचा स्थान है। जो लाइब्रेरी बस स्टैंड से लगभग 5.5 km की दूरी पर स्थित है। मसूरी में यह जगह घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह मानी जाती है। यहां से आपको सूर्योदय और सूर्यास्त के सुंदर दृश्य देखने को मिलेंगे। रेड हिल में डिपो होने के कारन इसे डिपो हिल भी कहा जाता है। जिसमे भारतीय सेना शिविर, दूरदर्शन टॉवर और ऑल इंडिया रेडियो भी हैं। हिमालय पर्वतो के सुंदर दृश्य को देखने के लिए यहां की नगरपालिका ने टॉवर पर एक दूरबीन को रखा गया था। ताकि यहां पर घूमने आये पर्यटक हिमालय पर्वतो को बड़े नजदीक से देख सके।

Mall Road in Mussoorie in Hindi (मसूरी का मॉल रोड)

मॉल रोड मसूरी का सबसे फेमस रोड है। जो लाइब्रेरी बस स्टैंड से लगभग 3 km दूर स्थित है। यहां पर शॉपिंग करने के लिए सबसे अच्छा है। यह रोड यहां के दो प्रमुख बाजारों, कुलरी बाजार और पुस्तकालय बाजार को जोड़ता है। ब्रिटिश शाशन के दौरान मॉल रोड का निर्माण हुआ था। वैसे तो यहां पर पुरे दिन ही चहल पहल रहती है। लेकिन शाम के समय यहां पर पर्यटकों की सबसे ज्यादा भीड़ देखने को मिलती है। पुरे मॉल के किनारे आपको बैठने के लिए बेंच और लैम्पपोस्ट देखने को मिलेगी। साथ ही साथ आपको यहां पर लकड़ी से बनी कलाकृतियाँ बेचने वाली दुकानें भी मिल जाएगी।

यह भी पढ़े – मसूरी में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह

Two Day Trip in Mussoorie in Hindi (मसूरी में दूसरे दिन का ट्रिप)

मसूरी में पहले दिन आप केम्पटी फॉल्स, तिब्बती बौद्ध मंदिर, कैमल्स बैक रोड, लाल टिब्बा और मॉल रोड जैसे स्थलों पर घूमेंगे। अब बात करते है की दूसरे दिन आपको कहा कहा पर घूमना है।, देखिये दूसरे दिन आप हाथीपांव, जॉर्ज एवरेस्ट हाउस, क्राइस्ट चर्च, और कंपनी बाग जैसी सुंदर जगहों पर घूम सकते है। आईये अब एक-एक करके इन स्थानों के बारे में विस्तार से जानते है।

Hathipaon in Mussoorie in Hindi (मसूरी का हाथीपांव)

हाथीपांव मसूरी के लाइब्रेरी बस स्टैंड से लगभग 5 km की दूरी पर स्थित है। जो की मसूरी के बेहद खूबसूरत पर्यटन स्थलों में से एक है। यह जगह प्रेमि कपल्स को अपनी तरफ बेहद आकर्षित करती है। घने जंगलो के बिच यह एक शांतिपूर्ण पहाड़ी के शिखर पर स्थित है। यहां पर कई तरह के एडवेंचर कैंप और रेनकोट कैंप में एक्टिविटी भी की जाती है। इसीलिए इसे सास्केट के नाम से भी जाना जाता है।

George Everest’s House/Park Estate in Hindi (जॉर्ज एवरेस्ट हाउस/पार्क एस्टेट)

जॉर्ज एवरेस्ट हाउस मसूरी के लाइब्रेरी बस स्टैंड से लगभग 6 km की दूरी पर स्थित है। मसूरी में घूमने आये पर्यटकों के लिए यह सबसे बेहतरीन जगहों में से एक है। जिसको पार्क एस्टेट के नाम से भी जाना जाता है। संन 1832 में बना यह घर जॉर्ज एवरेस्ट का था। यह एक हेरिटेज बिल्डिंग है। इस हाउस के एक तरफ से दून घाटी और दूसरी तरफ अगलर नदी घाटी के बेहतरीन दृश्य दिखाई देते है।

Christ Church in Mussoorie in Hindi (मसूरी का क्राइस्ट चर्च)

क्राइस्ट चर्च मसूरी का सबसे फेमस चर्च है जो लाइब्रेरी बस स्टैंड से 0.6 km की दूरी पर और कसमांडा पैलेस के पास स्थित है। इस चर्च का निर्माण ब्रिटिश काल के दौरान 1836 में हुआ था। इसीलिए इसे हिमालय पर्वतमाला का सबसे पुराना चर्च भी कहा जाता है। इस चर्च की बनी शैली अपने आप एक शानदार वास्तुकला का दावा करती है। चर्च की खिड़कियों पर लगा ग्लास यीशु मसीह के जीवन में हुई घटनाओं को दर्शाता है। पर्यटकों को अपनी और खींचने के लिए चर्च की दीवारों और अंदरूनी हिस्सों को बड़ी खूबसूरती के साथ सजाया गया है।

Company Bagh in Mussoorie in Hindi (मसूर का कंपनी बाग)

मसूरी का कंपनी बाग लाइब्रेरी बस स्टैंड से लगभग 3.5 km दूर और लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन एकेडमी के पास स्थित है। जो की म्यूनिसिपल गार्डन के नाम से भी जाना जाता है। पर्यटकों के लिए यह एक लोकप्रिय दर्शनीय स्थल है। इस पार्क का रखरखाव बड़े अच्छे से किया जाता है। पहले इस पार्क को मसूरी के बॉटनिकल गार्डन के नाम से भी जाना जाता था।

Best Time To Visit in Mussoorie In Hindi (मसूरी घूमने का सबसे अच्छा समय)

देखिये अगर आप मसूरी घूमने का प्लान बना रहे है और वहा के प्राकृतिक दृश्यों को देखना और साथ में कई ट्रेकिंग करना चाहते है। तो सितंबर से लेकर जून तक का समय सबसे अच्छा है। क्योंकि गर्मियों के दौरान यहां पर बिलकुल भी गर्मी नहीं होती है। लेकिन अगर आप स्नोफॉल का लुफ्त उठाना चाहते है तो जनवरी से फरवरी तक का महीना सबसे अच्छा है। मौसम एकदम सुहावना रहता है। मानसून के दौरान आप यहां पर बिलकुल भी घूमने न आये क्योंकि उस दौरान यहां पत्थर काफी गिरते है यानी यह एरिया पूरा लैंडस्लाइड एरिया है तो दुर्घटना होने की सम्भवना सबसे ज्यादा रहती है।

Restaurants And Local Food In Mussoorie In Hindi (मसूरी में स्थानीय भोजन)

देखिये जब कही पर भी घूमने फिरने के लिए जाते है तो वहा का लोकल फ़ूड इंजॉय जरूर करना चाहिए, बात करे अगर मसूरी की तो यहां पर आपको कई तरह के व्यंजन उपलब्ध होते हैं। स्थानीय व्यंजनों के साथ साथ आपको यहां पर यहां चीनी, तिब्बती, भारतीय, थाई, गोवा जैसे कई प्रकार के व्यंजन मिलते हैं। बाकि आप यहां पर बुट्टा, कैफे और कुछ हुक्का बार का भी लुत्फ उठा सकते हैं।

How to reach Mussoorie in Hindi (मसूरी कैसे पहुंचे)

(By air) हवाई जहाज के द्वारा – हवाई जहाज से आने के लिए सबसे पहले आपको देहरादून में स्थित जॉली ग्रांट के एअरपोर्ट आना होगा क्योंकि उत्तराखंड में सिर्फ एक ही एयरपोर्ट है यहां से मसूरी की दुरी लगभग 35 km की है. मसूरी जाने के लिए आपको वहा से टेक्सी, बस मिल जाएगी।

(By train) ट्रेन के द्वारा – अगर आप ट्रैन से मसूरी आने का प्लान बना रहे तो तभ भी आपको देहरादून रेलवे स्टेशन आना होगा, उसके बाद आप वहा से टेक्सी या बस में बैठकर मसूरी पहुंचेंगे।

(By road) रोड के द्वारा – अगर आप बस से आने का प्लान बना रहे है तो उत्तरप्रदेश और दिल्ली से देहरादून के लिए काफी बस चलती है। फिर देहरादून बस स्टैंड से आपको मसूरी के लिए काफी बस और टैक्सी मिल जाएगी।

(Personal Vehicle) अपनी कार के द्वारा – देखिये अगर आपको हिल स्टेशन पर ड्राइव करनी अच्छी आती है तो तभी आप अपनी गाडी से मसूरी जाए क्योंकि देहरादून से मसूरी तक का पूरा रास्ता हिल का है।

Note – मसूरी को हनीमून और फॅमिली ट्रिप के लिए उत्तराखंड देव भूमि का एक सबसे अच्छा हिल स्टेशन माना गया है जहाँ आप जाकर वहा की प्राकृतिक सुंदरता को अपने करीब में ही महसूस करेंगे, अगर आपका उत्तराखंड में घूमने का प्लान बन रहा है तो मसूरी एक सबसे अच्छा विकल्प है जहा पर आप अपनी छुट्टियों का भरपूर मजा ले सकते है।

यह भी पढ़े –

 

दोस्तों हम उम्मीद करते है कि आपको Mussoorie Tourism in Hindi के बारे में पढ़कर अच्छा लगा होगा।

यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आये तो हमारे फेसबुक पेज “PUBLIC GUIDE TIPS” को “LIKE” और “SHARE” जरुर करे।

पर्यटक और धार्मिक स्थलो की और अधिक जानकारी के लिए आप हमारे You Tube Channel PUBLIC GUIDE TIPS को जरुर “SUBSCRIBE” करे।

अगर आप हमे अपना कोई सुझाव देना चाहते है या यात्रा संबधित आपका कोई प्रश्न हो तो नीचे दिए कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *